ITI Fitter in hindi 2022 – जाने ITI Fitter Trade की Important जानकारी

हेल्लों दोस्तों, मेरा नाम है संदीप और sandipdhore.com के माध्यम से मैं एजुकेशनल जानकारी देता हूँ।  आज के इस आर्टिकल में हम देखेंगे आईटीआई में फिटर क्या होता है? याने  iti fitter in hindi। जो स्टूडेंट आईटीआई में फिटर का ट्रेड चुनना चाहते है, उन के लिए यह जानकारी महत्वपूर्ण है।

आप सभी को पता है, iti में कुछ ट्रेड काफी पॉपुलर है, जैसे, इलेक्ट्रीशियन, मोटर मैकेनिक, इलेक्ट्रीशियन, फिटर, वेल्डर आदि कुछ ऐसे आईटीआई ट्रेड है, जो काफी महत्वपूर्ण माने जाते है। Iti in fitter एक ऐसा ट्रैड है जो इलेक्ट्रीशियन के बाद सब से ज्यादा फेमस है। ऐसा क्यूँ है? फिटर क्या होता है? ( what is iti fitter), आईटीआई फिटर को जॉब कहाँ मिलती है? याने job for iti fitter और साथ ही हम जानेंगे iti fitter course details in hindi में। चलों शुरू करते है। 

ITI Fitter in hindi
ITI Fitter in hindi

 

फिटर क्या है? ITI Fitter in hindi

सब से पहले तो जो नये स्टूडेंट होते है, 10 th  या 12 th पास कर आईटीआई की तरफ मुड़ते है, वह iti trade list में यह ट्रेड देखते है, तो जरुर सोचते होंगे फिटर क्या है?  तो सब से पहले हम यही जानते है की आईटीआई में फिटर क्या होता है?

फिटर शब्द से ही हम अंदाजा लगा सकते है की फिट करने वाला या अलग-अलग चीजों एवं पुर्जों को जोड़ने वाला इंसान फिटर कहलाता है।  वर्कशॉप तथा कंपनियों में मशीन के अलग अलग पुर्जों को जोड़ने वाला व्यक्ति फिटर होता है या किसी भी तरह के फिटिंग के कामों को करनेवाला भी फिटर ही कहलाता है। 

फिटर की डेफिनेशन – fitter meaning in hindi

किसी वर्कशॉप, कम्पनी, या  फैक्ट्री की मशीन और उन मशीनों के पुर्जों आदि की कटिंग फिटिंग और उनके निर्माण के लिए मरम्मत करने वाले इंसान को जिसे हम मिस्त्री या फिर फिटर कहते है।

फिटर का फुलफोर्म – iti fitter full form in hindi

Fitness शारीरिक रूप से फिट
Intelligent बौद्धिक स्तर पर हुशार
Talentedविषयों को सिखने की जिज्ञासा
Targetलक्ष्य को प्राप्त करने का धेय्य
Efficientकुशलता से कार्य करने की चाह
Regularityकाम में नियमितता

आईटीआई में फिटर क्या है? iti fitter in hindi 

मुझे लगता है की एक फिटर क्या है इस का अंदाजा आप को आ ही गया होगा। अब iti fitter course को hindi में details जानते है। 

आप तो जानते ही है  ITI कोर्स के अंतर्गत कई टेक्निकल और नॉन-टेक्निकल ट्रेड को सम्मिलित किया गया है,  आईटीआई ट्रेड में फिटर मैकेनिकल इंजीनियरिंग फिल्ड से जुड़ा एक ट्रेड है, जिस में फिटर मैकेनिक बनने के लिए थ्योरी, प्रैक्टिकल, और ट्रेनिंग के साथ सभी जरुरी जानकारी दी जाती है। 2 साल के इस कोर्स को पास करने के बाद स्टूडेंट को सर्टिफिकेट दिया जाता है। और सर्टिफिकेट प्राप्त स्टूडेंट गवर्मेंट, नॉन-गवर्नमेंट, या प्राइवेट सेक्टर में iti fitter job करने के लिए तैयार हो जाता है। 

 iti fitter course details in hindi 

अब हम जानेंगे की iti में फिटर ट्रेड में एडमिशन के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए? गवर्नमेंट और प्राइवेट आईटीआई में इस के लिए क्या फीस होती है? एडमिशन के लिए कोई age limit निर्धारित है या नहीं? iti fitter ट्रेड का सिलॅबस क्या होता है? और साथ ही iti fitter कितने टाइप्स का होता है? इन सभी प्रश्नों के उत्तर अब जानेंगे। 

आईटीआई फिटर के लिए एडमिशन योग्यता 

दोस्तों, आप जानते ही है की आईटीआई में एडमिशन आप 10 th या 12 th पास के बाद कर सकते है। इसलिए आईटीआई में फिटरट्रेड में एडमिशन करने के लिए भी यही योग्यता की जरूरत होती है।

महत्वपूर्ण यह है की यह एक मैकेनिकल इंजीनियरिंग  फिल्ड से जुड़ा ट्रेड है, इसलिए आईटीआई फिटर में एडमिशन लेने के लिए 10th में गणित और विज्ञान होना जरुरी है और अगर आप इस कोर्स को 12th के बाद करते है तो किसी मान्यता प्राप्त कॉलेज से ही अपना 12th पास करना जरुरी है।

आईटीआई में फिटर के लिए क्या फीस होती है?

अगर आप किसी भी गवर्नमेंट कॉलेज से iti fitter का ट्रेड करते है तो आप को किसी भी तरह की फीस नही भरनी होती है, क्यों की अगर आप  आईटीआई के किसी भी गवर्मेंट कॉलेज में किसी भी ट्रेड को करते है तो आपकी पढाई का पूरा खर्चा सरकार देगी और साथ में उस डिप्लोमा की वैल्यू भी अधिक होगी। 

लेकिन जब आप आईटीआई प्राइवेट कॉलेज से करते है तो कॉलेज का सारा खर्चा आपको ही उठाना पड़ता है। जिसे आप लगभग 20,000 से 30,000 तक की फीस में 2 साल का कोर्स करके सर्टिफिकेट पा सकते है मतलब की आईटीआई फिटर की 2 साल की फीस लगभग 20,000 से 30,000 होती है लेकिन इसकी फीस सभी कॉलेज में अलग-अलग होती है।

Iti fitter के एडमिशन के लिए age limit 

आईटीआई के फिटर ट्रेड में एडमिशन लेने के लिए आवेदक की न्यूनतम आयु 14 वर्ष होनी चाहिए और अधिकतम आयु 40 वर्ष होना चाहिए जाति वर्ग जैसे एससी एसटी ओबीसी कैटेगरी के हिसाब से आयु सीमा में भी छूट दिया जाता है।

 iti fitter ट्रेड का सिलॅबस क्या होता है?

आईटीआई फिटर का सिलॅबस DGT (डायरेक्टरेट जनरल ऑफ ट्रेनिंग) द्वारा निर्धारित किया जाता है। जिसमें फिटर ट्रेड के सिलेबस को दो क्षेत्रो में बांटा गया डोमेन क्षेत्र और कोड क्षेत्र। डोमेन क्षेत्र भाषाई कौशल और ज्ञान प्रदान करता है जबकि कोड क्षेत्र में साइंस कैलकुलेशन इन इंजीनियरिंग ड्रॉइंग एंड इंप्रूव राइटिंग स्किल्स ज्ञान और जीवन कौशल प्रदान करता है इस तरह सिलेबस को बांटा गया है।

फिटर कितने टाइप्स के होते है?

फिटर ट्रेड में भी अलग-अलग टाइप के फिटर होते है। जैसे, 

  • लोकोमोटिव फिटर 
  • मशीन फिटर 
  • बेंच पीटर 
  • खान फिटर 
  • पाइप फिटर 
  • डाई फिटर
  • मेंटेनेंस फिटर
  • पेट्रोल और डीजल पेट्रोल फिटर 
  • ऑटो फिटर
  • असेंबली फिटर
  • टरबाइन फिटर 
  • विद्युत फिटर

ITI Fitter के ट्रेड में स्टूडेंट को क्या सिखाया जाता है 

मुझे लगता है की आप फिटर को अच्छेसे समझ गये है इसलिए आप को अंदेशा होगा ही फिटर के ट्रेड में क्या-क्या सिखाया जाता है। फिर भी हम यह जान लेते है।

फिटर ट्रेड में मशीन की मरम्मत कैसे करें, बोल्ट के साथ मशीन कैसे असेंबल करें, इस तरह के कार्य को fitter में सिखाया जाता है।  साथ ही पाइप फिटिंग, ड्रिलिंग, बिल्डिंग निरीक्षण करना, नापाई का काम भी सिखाया जाता है। इस के साथ मशीन टूल्स की सटीकता का परीक्षण करना बताया जाता है। 

जैसे की अगर आप  आईटीआई में ड्राइविंग फिटर का ट्रेड कर रहे हैं तो ड्राइविंग देखकर विभिन्न भागों को फिटिंग करना असेंबल करना स्पेसिफिकेशन उनके कार्य को समझने ट्रेनिंग दिया जाता है।

एक अच्छे फिटर को क्या क्या आना चाहिए?

दोस्तों, अगर आप iti में fitter का ट्रेड कर फिटर बनाना चाहते है तो आप को खुद में कुछ सिखने की इच्छा तो होनी ही चाहिए साथ ही आप को खुद में एक क्वालिटी डेवेलोप करने की भी जरूरत होती है। साथ ही आप का इंटरेस्ट भी काफी मायने रखता है, जैसे फाइलिंग करना, ड्रिलिंग करना, कटिंग, मापना, रीमिंग, थ्रेडिंग, टेपिंग, वेल्डिंग, ग्राइंडिंग, टर्निंग, खुरचना, मेंटेनेंस अदि काम आप को बड़ें ही दिल लगाकर करने होते है।

आईटीआई फिटर होने के बाद क्या करे

अगर आप स्टूडेंट है तो यह जरुर सोचते होंगे की आईटीआई फिटर करने के बाद आप को क्या करना चाहिए या आप क्या-क्या कर सकते है। मेरा मानना है की यह पूरी तरह से आप पर डिपेंड है की आप को क्या करना चाहिए। अगर आप फिटर की सर्टिफिकेट प्राप्त होने के बाद जॉब करना चाहते है तो जॉब कर सकते है, या पढाई जारी रखना चाहते है तो वह भी कर सकते है। 

इस के लिए आप इंजीनियरिंग में भी प्रवेश ले सकते हैं नेशनल अप्रेंटिस सर्टिफिकेट्स के लिए आप विभिन्न प्रकार के उद्योगों में अप्रेंटिस प्रोग्राम में शामिल हो सकते हैं engineering की कई शाखाओं में डिप्लोमा कोर्स में प्रवेश ले सकते हैं।

आईटीआई fitter कोर्स करने के फायदे 

आईटीआई फिटर कोर्स को करने के बहुत सारे फायदे हैं आइए जानते हैं कुछ फायदों के बारे में

  • आईटीआई फिटर कोर्स करने के बाद बहुत सारे job for iti fitter के अवसर मिलते हैं।
  • इस कोर्स को प्राइवेट और गवर्नमेंट दोनों तरह से किया जा सकता है।
  • इसमें अच्छी सैलरी पैकेज में मिलती है।
  • अगर मशीन संबंधी कार्य करने में रुचि है तो इसमें भी हम अच्छे जॉब और भविष्य बना सकते हैं। 
  • फिटर को पास करने के बाद उच्च डिप्लोमा बैचलर डिग्री हासिल करने के लिए इसमें आगे की पढ़ाई भी जारी रख सकते हैं।
  • फिटर कोर्स को करने के बाद खुद के प्राइवेट कार्य भी शुरू कर सकते हैं। 
  • प्राइवेट सेक्टर में अच्छे से जॉब हासिल किया जा सकता है। 
  • फिटर कोर्स को करने के बाद बहुत सारी कैरियर संभावनाएं हैं।

दोस्तों यह थी आईटीआई में फिटर क्या होता है? याने  iti fitter in hindi की सम्पूर्ण जानकारी। अगर इस से सम्बन्धित आप का कोई सवाल है तो हमें कमेंट बॉक्स में जरुर पूछे।  

ITI Fitter in hindi
ITI Fitter in hindi

यह भी पढ़ें :- transformers in hindi | ट्रांसफार्मर क्या है | transformer kya hai

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!