MBA kya Hai | एमबीए क्या है? कैसे करें? फीस से लेकर फायदों तक की accurate जानकारी

हॅल्लों दोस्तों मेरा नाम है संदीप और sandipdhore.com के माध्यम से मैं आप के लिए कई विषयों की जानकारी प्रस्तुत करता हूँ।आज का हमारा विषय है, MBA Kya Hai , MBA Kaise kare, MBA की फीस कितनी है (m b a ki fees kitni hai), एमबीए करने के फायदे क्या है,एमबीए के बाद सैलरी कितनी मिलती है, एमबीए के बाद जाॅब्स कैसे करें इन सभी विषयों के साथ हम एमबीए की पूर्ण जानकारी (mba courses details in hindi) बड़े आसान शब्दों में इस आर्टिकल में जानेंगे। चलो शुरू करते है।

क्या स्टूडेंट होना आसान है? कतई नहीं, एक स्टूडेंट किस टेंशन से गुजरता है, इसे मैं भलीभांति समजता हूँ। अगर किसी स्टूडेंट को सही मार्गदर्शन या सही दिशा ना मिले तो सही मायने में वह अपने भविष्य को खो देता है। कई स्टूडेंट के साथ ऐसा होते आया है, और मैं उन्ही स्टूडेंट्स में से एक हूँ। मैं भलिभांति जानता हूँ की स्टूडेंट को भविष्य के प्रति सही दिशा दिखाना कितना आवश्यक है। MBA Kya Hai, और MBA Kaise kare की यह सम्पूर्ण जानकारी इसलिए में उन स्टूडेंट को देना चाहता हूँ, जो अभी-अभी अपना ग्रेजुएशन कम्पलीट किये है। और अपने भविष्य के प्रति सचेत है।

MBA Kya Hai
MBA Kya Hai

MBA kya Hai | एमबीए क्या है?

दोस्तों, आप में से कई स्टूडेंट यह जानते होंगे की MBA क्या है? और कुछ नही भी जानते होंगे, इसलिए सब से पहले हम MBA kya hai यह समझ लेते है। MBA का full form  है  मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिन्सट्रेशन ( Master Of Business Administration )। अब जब भी कभी आप को MBA का फुल फॉर्म पूछा जाए तो आप यह खयाल रखिये।

MBA की फुल फॉर्म क्या होता है?

MBA की फुल फॉर्म है मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिन्सट्रेशन ( Master Of Business Administration )

अब जानते है MBA  का अर्थ  What is MBA course in Hindi

बिजनेस एडमिन्सट्रेशन याने किसी भी व्यवसाय को संघटित, नियंत्रित रूप से आगे बढ़ाना होता है, यह वह स्किल है जो हमें टीम लीडर के रूप में उभारती है, MBA यानि मास्टर ऑफ बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन यह दो साल का मास्टर डिग्री कोर्स होता है।

MBA कोर्स  मैनेजमेंट की फील्ड में स्टूडेंट्स को कई सारे करियर ऑप्शन देता है। इसमें आपको बिज़नेस से जुड़ी जानकारियों और उनके कठिनाइयों के बारे में सिखाया जाता है।MBA में हम सीखते है बिज़नेस मैनेजमेंट, मार्केटिंग, बिज़नेस स्किल डेवलपमेंट आदि कई छोटी से छोटी और बड़ी से बड़ी बाते।

MBA करने के फायदे – Mba Karne Ke Fayde In Hindi

अगर आप एक सफल बिजनेसमैन बनने की इच्छा रखते है तो MBA Courses में आपको एक बेहतर बिजनेसमैन बनने के कई सारे गुण सीखने को मिलते है। लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं है कि MBA सिर्फ बिजनेस यानी व्यापार करने वाले लोगों के लिए ही होता है, ऐसा बिलकुल भी नही है ,MBA कोई भी कर सकता है चाहे आप को बिजनेसमन बनना हो या ना हो। MBA  Course करने के बाद किसी बड़ी कंपनी में बिजनेस मैनेजर (Business manager) के पद पर नौकरी भी पा सकते हैं और इसके साथ साथ आप खुद का भी बिजनेस (Business) से खोल सकते हैं।

अगर आप MBA करने के बाद बिज़नेस नही करना चाहते तो इसके लिए आपके पास अनेक ही क्षेत्र मौजूद है जैसे आप बैंकिंग सेक्टर, फाइनेंस मार्केटिंग इत्यादि में जा सकते है।

MBA कितने साल का है – MBA Kitne Saal Ka Hai

अपनी ग्रेजुएशन पूरी करने के बाद आपको एमबीए करने में 2 साल का समय लगेगा।

MBA के लिए क्या जरुरी है?

जो MBA करना चाहता है उस स्टूडेंट के लिए जरुरी है की वह किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से न्यूनतम अंक 50 प्रतिशत से ग्रेजुएशन पास होना चाहिए। यह MBA कोर्स की requirement है। लेकिन  SC/ST केटेगरी वालों के लिए न्यूनतम अंक 45 प्रितिशत अंक से ग्रेजुएशन पास होने की छुट है।

हर स्टूडेंट्स जो MBA में एडमिशन लेना चाह रहे है, उन्हें MBA की प्रवेश परीक्षा (एंट्रेंस एग्जाम) पास करने की आवश्यकता होती है। प्रत्येक यूनिवर्सिटी और इंस्टिट्यूट की एंट्रेंस परीक्षा अलग अलग होती है। एन्ट्रेंस परीक्षा में अच्छे अंको से पास होने पर ही आपको एक अच्छा यूनिवर्सिटी और इंस्टिट्यूट में एडमिशन मिलेगा। यदि आप परीक्षा में प्रथम आते है तो आपके MBA करने में लगे खर्च पर छूट मिल जाती है।

हमारे देश से कई स्टूडेंट विदेशों में MBA की डिग्री प्राप्त करने जाते है, लेकिन हमारे देश में भी कई ऐसे टॉप इंस्टिट्यूट है, जो काफी प्रसिद्ध है। जैसे,

  1. इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, अलाहाबाद 
  2. इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, कोलकत्ता 
  3. इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, कोझिकोड 
  4. इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, इंदौर 
  5. इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, लखनऊ 
  6. इंस्टिट्यूटऑफ मैनेजमेंट, निरमा यूनिवर्सिटी अहमदाबाद 
  7. सिमबोसिस इंस्टिट्यूट ऑफ बिजनेस मैनेजमेंट, पुणे 
  8. जेवियर इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, भुवनेश्वर 
  9. जेबियर लेबर रिलेशन इंस्टिट्यूट ऑफ जमशेदपुर 

MBA करने के लिए यह भारत के टॉप इंस्टिट्यूट है। साथ ही विभिन्न राज्यों में कई IIM के इंस्टिट्यूट हैं और हर इंस्टिट्यूट में लगभग 2400 सीटें हैं। जिन्हें पाने के लिए स्टूडेंट्स को हर साल CAT एंट्रेंस एग्जाम देना पड़ता है। अगर आप आई।आई।एम ( IIM ) में प्रवेश करना चाहते हैं। तो उसके लिए आपको कैट (CAT)  प्रवेश परीक्षा (एंट्रेंस एग्जाम) को पास करना जरुरी होगा।

देश के नामी इंस्टिट्यूट IIM में प्रवेश पाना इतना आसन नही है, CAT परीक्षा के माध्यम से ही यहाँ दाखिला मिलता है। यह परीक्षा हर साल केवल एक बार दो स्लॉट में ली जाती है। कैट एग्जाम के लिए लगभग 8 से 9 महीने की तैयारी करनी चाहिए। IIM मे दाखिला लेने के लिए आपको बहुत कड़ी मेहनत करनी होगी क्योंकि CAT बहुत ही कठिन प्रवेश परीक्षा है।

इसमें हर साल लगभग दो लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स निर्धारित जगह के लिए आवेदन करते हैं। अगर आप में हौसला और कुछ करने का जज्बा है तो आप आसानी से CAT को पास कर सकते है। दोस्तों एक बात हमेशा ध्यान रखना की कोई एग्जाम कठिन हो सकती है, नामुमकिन नही।

 MBA के लिए फीस कितनी है? MBA ki Fees Kitni Hai

स्टूडेंट्स होने के नाते आप सभी को पता है जैसे जैसे पढ़ाई आगे बढ़ती जाती है, वैसे वैसे पढाई का खर्चा भी बढ़ता जाता है।  MBA  कोर्स की बात करें तो अगर आप किसी अच्छे कॉलेज में एडमिशन लेते है तो एमबीए की फीस 10 लाख से लेकर 30 लाख तक हो सकती है ।

और अगर आपका एंट्रेंस एग्जाम जैसे, कैट एग्जाम क्लियर हो जाता है और आपको सरकारी कॉलेज में एमबीए के लिए एडमिशन मिल जाता है तब आपकी एमबीए फीस प्राइवेट कॉलेज से काफी कम होगी। इसलिए दोस्तों, मेरा मानना है की अगर सच्ची लगन से मेहनत करोगे तो एंट्रेंस एग्जाम को जरुर पास करोगे। इसलिए सबसे पहले आप गवर्नमेंट कॉलेज के लिए ही तैयारी करें।

MBA के लिए कौन सा फ़ील्ड चुने  

दोस्तों, यह सवाल आप के रूचि पर निर्भर करता है, क्यों  की MBA करने के लिए आप को कई विषय मिल जाते है, जैसे फाइनेंस, मार्केटिंग, ह्यूमन रेसौर्सस, इंटरनेशनल बिज़नेस, बिज़नेस एनालिटिक्स, जैसे विषयों में आप एमबीए कर सकते है। दोस्तों, विषयों को थोडा विस्तार से जानते है, ताकि आप को एक आईडिया आ सकें।

MBA In Finance 

अगर आप बैंकिंग, फाइनेंशियल सर्विस या कॉर्पोरेट से जुड़ें क्षेत्र में जाना चाहते हैं, आप का इंटरेस्ट फाइनेंस फ़ील्ड की तरह है तो निश्चित ही आप एमबीए इन फाइनेंस कर सकते हैं। इस कोर्स के दौरान आप कोस्टिंग, बजटिंग और इंटरनेशनल फाइनान्स जैसे विषयों को पढाया जाता है। इन विषयों की पढ़ाई करने के बाद आप फाइनेंसियल मैनेजमेंट में स्पेशलाइज्ड बन जाते हैं। और आप के पसंदीदा क्षेत्र में आप को अच्छे सैलरी की जॉब भी मिल जाती है।

MBA In Marketing 

आप को पता है आज का युग मार्केटिंग का युग है, इस में एक बेहतरीन कैरियर की कई संभावनाए उभर रही है, अगर आप कम्युनिकेशन स्किल में एक बेहतरीन स्टूडेंट है तो निश्चित ही आप को MBA in marketing के ऑप्शन को चुनना चाहिए।एमबीए मार्केटिंग में छात्रों को मार्केटिंग, एडवरटाइजिंग, बेहेवियर, कंज़्यूमर जैसे फिल्ड से सम्बंधित अन्य तथ्यों को समझने में मदद मिलती है। मार्केटिंग के क्षेत्र में कम्पटीशन भी कई अधिक है, जो स्टूडेंट मार्केटिंग के जूनून पर सवार है उन के लिए यह बेहतरीन विकल्प है।

MBA In Human Resources 

अलग अलग  कंपनियों में  मानवीय संसाधनों के आवश्यकता नुसार, कर्मचारियों को मैनेज करना, कर्मचारियों के गुणवत्ता में सुधार करना, साथ ही नए कर्मचारियों की भर्ती प्रक्रिया तथा, वेतन विनियन  के लिए जरूरत होती है MBA In Human Resources । जो एक टीम लीडर क्वालिटी को डेवेलोप करता है।

MBA In International Business 

एक कम्पनी को विस्तारित धोरण के लिए, कंपनी का विदेश में विस्तार करने के लिए, अलग अलग अवसरों को धुन्धने के लिए साथ ही फाइनेंस फंड्स, बिजनेस टर्म्स के लिए विकासित रणनीति बनाना तथा इसी के साथ अगर कोई विदेश से कंपनी में इन्वेस्ट करना चाहता है तो उसको कंपनी के मॉडल के बारे में बताना इंटरनेशनल बिजनेस मैनेजर का काम होता है।

MBA In Business Analytics 

बिजनेस एनालिटिक्स मैनेजर का काम होता है कि आंकड़ों, सर्वे और तथ्यों के आधार पर कंपनी के लिए रणनीतियां बनाना है। भारत में इस इंडस्ट्री की ग्रोथ आने वाले समय में काफी ज्यादा है। तो अगर आप इसमें अपना कैरियर बनाना चाहते हैं तो आप किसी अच्छे कॉलेज से एमबीए इन बिजनेस एनालिटिक्स कर सकते हैं।

MBA के बाद क्या करें 

दोस्तों, MBA करने के बाद आपके पास काफी विकल्प उपलब्ध रहते हैं, यदि आप खुद एक बिज़नेस खड़ा करना चाहते है तो आप को कई संसाधनों की आवश्यकता पडती है, यदि आप के पास कोई सेटल बिज़नेस है तो आप अपने बिज़नेस को एक नये मुकाम तक पंहुचा सकते है, लेकिन आप अगर जॉब्स का ऑप्शन choose करते है तो भी आप एक अच्छे पोस्ट पर अपनी रुचि के आधार पर नौकरी करके अच्छी सैलरी पा सकते हैं। नोकरी में आप के पास कई विकल्प मौजूद होते है, जैसे

  • Equity Research Analyst
  • HR Manager
  • R&D Manager
  • Brand Manager
  • Stock Broker
  • Account Manager
  • Hotel Manager
  • Investment Banker

एमबीए के बाद सैलरी-  MBA Ke Baad Job Salary 

एमबीए के बाद जब आप फ्रेशेर्स के तौर पर किसी कम्पनी की कमान सँभालते है तो यक़ीनन सैलरी थोड़ी कम मिलेगी। लेकिन बाद में आप के अनुभव और स्किल के आधार पर आप को अच्छी खासी रक्कम का पकेज मिलता है।

आमतौर पर प्राइवेट कंपनी आपको ज्यादा पैकेज देती है जो शुरुआत में 10 लाख प्रति वर्ष का हो सकता है जो समय के साथ 50 लाख प्रति वर्ष तक भी जा सकता है।

संबोधन 

दोस्तों, आज के इस आर्टिकल में हम ने  MBA Kya Hai , MBA Kaise kare, MBA की फीस कितनी है (m b a ki fees kitni hai), एमबीए करने के फायदे क्या है,एमबीए के बाद सैलरी कितनी मिलती है, एमबीए के बाद जाॅब्स कैसे करें इन सभी विषयों को जाना है, यदि इस के सम्बन्धी कोई सवाल आप के मन में है तो आप कमेंट बॉक्स में जरुर पुछ सकते है।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!