robotics in hindi – जाने रोबोटिक्स इंजीनियरिंग की Important जानकारी

हॅल्लों दोस्तों, मेरा नाम है संदीप और sandipdhore.com के जरिये आप के लिए एजुकेशनल और करियर सम्बन्धित जानकारी देता  हूँ। आज हम टेक्नोलॉजी के ऐसे दौर में है जहाँ टेक्नोलॉजी के नए आयामों को देख सकते है, हम बात करते है रोबोटिक्स टेक्नोलॉजी की। विज्ञानं का ऐसा भविष्य जो जीवन को एक नये और अलग आयामों में परिभाषित करता है। 

आज हम रोबोटिक्स ( robotics in hindi) के इस आर्टिकल में जानेंगे, रोबोटिक्स क्या है? करियर के दृष्टिकोण से रोबोटिक्स में कितनी संभावनाएं है? एक स्टूडेंट्स जो रोबोटिक्स में अपना करियर करना चाहता है, उस के लिए इस क्षेत्र में क्या-क्या स्कोप है? Robotics engineering क्या है? किस तरह से स्टूडेंट्स इस क्षेत्र में अपना करियर बना सकते है? रोबोटिक्स इंजीनियरिंग के लिए स्टूडेंट्स की आवश्यकतायें क्या है? इन सभी बातों को आसन भाषा में विस्तार से जानेंगे। चलों शुरू करते है।

robotics in hindi
robotics in hindi

रोबोटिक्स क्या है? ( robotics in hindi )

रोबोटिक्स (robotics) विज्ञान की एक शाखा है जिसमें आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (artificial intelligence ) को विकसित किया जाता है और ऑटोमेटिक मैकेनिकल डिवाइस और कंप्यूटर प्रोग्रामिंग की मदद से एक मशीन तैयार की जाती है, जो स्वचलित और रिप्रोग्रामेबल होती है जिसे रोबोट कहा जाता है।

जिसे विज्ञानं के अलग-अलग प्रारूपों को मिलकर बनाया गया है, जैसे मैकेनिकल इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग, कंप्यूटर इंजीनियरिंग ऐसे विज्ञानं की अलग-अलग शाखाओं के मिश्रण से रोबोटिक्स इंजीनियरिंग की इस शाखा का निर्माण हुआ है। 

रोबोटिक्स भविष्य के दृष्टिकोण से ऐसे रोबोट्स का निर्माण करती है, जिसमें सोच को विकसित किया जा सकें, इस शाखा में रोबोट्स निर्माण के साथ, रोबोट डिजाईन, उपयोग, रोबोट्स का संचालन, प्रोग्रामिंग, प्रोग्रामिंग के जरिये आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस (कृत्रिम दिमाग) का निर्माण, रचना और उत्पाद का अध्ययन एव रिसर्च की जाती है।  इसे स्टूडेंट्स को विस्तार से समजने की जरूरत है। 

रोबोट क्या है?

सब से पहले हम रोबोट को समझते है। Robot एक तरह की मशीन ही होती है जो खास तौर प्रोग्रामिंग के जरिये विकसित की जाती है, कंप्यूटर के द्वारा निर्देशों को प्रोग्राम किया जाता है,और मशीन दिए गये निर्देशों के आधार पर निरंतर काम करती है। यह कई मुश्किल भरे कामों को सरलता से अपने आप करने में सक्षम होती है। इस से ही हम रोबोट कहते है।

अलग- अलग तरह के कामों के लिए कई अलग अलग तरह से रोबोट्स का निर्माण होता है, लेकिन उसका structure of base in 4 बातों पर आधारित है।

  • प्रोग्रामिंग (Programming)
  • सेंसर सिस्टम (Sensor System)
  • पॉवर सोर्स (Power Source)
  • मसल्स सिस्टम (Muscle System)

यह चार structure of base विज्ञान के अलग अलग शाखाओं के पार्ट है, जिसे रोबोटिक्स शाखा में प्रयोग किया जाता है, और रोबोट्स का निर्माण किया जाता है। 

रोबोटिक्स के बारे में आप अब समझ ही गये होंगे, अब बात करते है,  करियर के दृष्टिकोण से रोबोटिक्स में कितनी संभावनाएं है? 

करियर इन रोबोटिक्स (Career in robotics)

स्टूडेंट्स के लिए यह जानना और समझना जरुरी है, क्यों की इस क्षेत्र में असीमित संभावनाओं को उजागर किया है।  आप को पता है आज का दौर आगे की सोच रखने का दौर है। आज रोबोटिक्स टेक्नोलॉजी को हर क्षेत्र में अपनाया जा रहा है, आप किसी भी क्षेत्र को उठाकर देखियें। जैसे, 

मेडिकल क्षेत्र में रोबोटिक्स की सम्भावना :- मेडिकल क्षेत्र में कई ऐसी बहुत नाजुक सर्जरी होती है जो मानवीय दृष्टिकोण से काफी क्रिटिकल होती है, ऐसे में रोबोटिक टेक्नोलॉजी के जरियें ऐसे रोबोट्स बना सकते है, ज्यो क्रिटिकल सर्जरी को एक्यूरेट तरीके से सफल कर सकें।

ऑटोमोटिव इंडस्ट्रियल सेक्टर में रोबोटिक्स का महत्व :- आज के दौर में रोबोट्स का प्रयोग सब से ज्याद इसी सेक्टर में हो रहा है,  कई रोबोटिक कंपनिया इंडस्ट्रिअल use के लिए इंडस्ट्रियल रोबोट बनाते है,  रोबोट का उपयोग विभिन्न प्रकार के कार्यों को करने के लिए किया जा सकता है। इन रोबोट का इस्तेमाल Automobile Plants में वेल्डिंग, पॉलिशिंग, पेंटिंग के लिए किया जाता है। कुछ रोबोट में वस्तुओं को लेने और खतरनाक वस्तुओं को संभालने के लिए भी किया जाता हैं।

सिक्योरिटी पर्पस के लिए रोबोट्स का उपयोग :- आज के दौर में सिक्योरिटी पर्पस के लिए रोबोट्स का उपयोग हो रहा है, कई देश अपने सैन्य दलों और पोलिस दलों में ऐसे रोबोट्स को शामिल कर रहे है, जो विस्फोटक खोजने और नष्ट करने का काम कर सकें। 

अन्तराल संशोधन में रोबोट्स का इस्तेमाल :- अन्तराल संशोधन के लिए रोबोट्स कही प्रयोग सब से ज्यादा होता आया है, क्यों की अन्तराल में मनुष्य को भेजकर अध्ययन के कई सरे खतरे होते है, ऐसे में रोबोट्स यह काम करते है,  International स्पेस स्टेशन में बहुत सारे काम रोबोट्स के सहारे ही किया जाता है। आप जानते ही होंगे मंगल ग्रह पर भी Rover नामक रोबोट को ही भेजा गया है।

 ठीक ऐसे ही रोबोटिक्स टेक्नोलॉजी को जोरदार तरीके से अपनाया जा रहा है। जोखिम भरे कामों को ज्यादातर रोबोटिक्स के जरिए किया जा रहा है। आज के दौर में दुनिया में अपने दिन-प्रतिदिन के काम पूरे करने के लिए रोबोटिक्स का  ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करने की कोशिश कर रहा है। आप भी रोबोटिक्स में अपना करियर बना सकते हैं क्योंकि भविष्य के दृष्टिकोण से दुनिया भर में रोबोटिक्स टेक्नोलॉजी में सब से अच्छे करियर की कई संभावनाएं है। 

 स्टूडेंट्स के लिए रोबोटिक्स में क्या स्कोप है?Career Scope in robotics Engineering

स्कोप के आधार पर जब हम इस के बारेमें सोचते है तो यक़ीनन ऐसा लगता है, स्टूडेंट्स के लिए यह एक बेहतरीन करियर ऑप्शन हो सकता है। आप सभी अब जानते ही है की रोबोटिक्स इंजीनियरिंग आज के समय का एक उभरता हुआ क्षेत्र है। इसलिए इस फील्ड में रोजगार के बेहतरीन अवसर उपलब्ध हैं। 

रोबोटिक्स की फ़ील्ड को choose करने वाले स्टूडेंट्स रोबोट के रिसर्च एंड डेवलपमेंट, रोबोट मैन्युफैक्चरिंग एंड टेस्टिंग, क्वालिटी कंट्रोल के सेक्टर में अच्छा काम कर सकते हैं। यंहा स्टूडेंट्स के लिए कई विकल्प मौजूद है जैसे, रोबॉटिक्स इंजीनियर, रोबॉटिक्स साइंटिस्ट, टेक्नीशियन के तौर पर स्टूडेंट्स यहाँ जॉब कर सकते हैं।

अगर कोई स्टूडेंट्स रोबोटिक्स मे मास्टर डिग्री करता है तो वह इसरो और नासा जैसे अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन में Job कर सकता हैं। इस फील्ड के प्रशिक्षित स्टूडेंट्स को नासा के अलावा अन्य बहुत से प्राइवेट इंडस्ट्रीज, ऑटोमोबाइल्स और इंडस्ट्रीयल टूल्स में जॉब के अवसर मिलते हैं।

आज के समय मे रोबोटिक्स का बहुत से सेक्टर में प्रयोग किया जाने लगा है। इसमे आप इंडिस्ट्रीयल रोबोटिक्स में कैरियर बना सकते हैं या आप चाहें तो सेफ्टी रोबोटिक्स जैसेकि मिलिट्री या बम्ब निष्क्रिय करने वाले रोबोटिक्स के सेक्टर में भी कैरियर की शुरुआत कर सकते हैं।

रोबोटिक्स इंजीनियरिंग क्या है?

रोबोटिक्स इंजीनियरिंग इंजीनियरिंग की एक ऐसी शाखा है, जिसमें रोबोट को डिजाइन करना और उनके लिए कंप्यूटरीकृत एप्लीकेशन विकसित करना, सेंसर, प्रोसेसर, कलपुर्जों के पदार्थ और आकार का निर्धारण करना, इसके अलावा रोबोट में लगे इलेक्ट्रॉनिक पुर्जों का निरीक्षण, रोबोट का परीक्षण और उसकी तकनीक संबंधी खामियों का पता लगाना, रोबोट को डिस्असेंबल/ रिअसेंबल करने के साथ रोबोट की सर्विसिंग का अध्ययन और प्रशिक्षण रोबोटिक्स इंजीनियरिंग में होता है।

रोबोटिक्स इंजीनियरिंग के लिए  Eligibility

देश में ग्रेजुएशन लेवल पर विभिन्न रोबोटिक्स कोर्सेज में एडमिशन लेने के लिए स्टूडेंट्स ने किसी मान्यताप्राप्त एजुकेशनल बोर्ड से अपनी 12वीं क्लास साइंस स्ट्रीम फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ्स जैसे विषयों के साथ में पास करना अनिवार्य है। 

रोबोटिक्स में पोस्ट ग्रेजुएशन के कोर्सेस के लिए स्टूडेंट्स जरूरत है की वे अपनी बैचलर डिग्री मैकेनिकल, इलेक्ट्रिकल, इलेक्ट्रॉनिक्स, इंस्ट्रूमेंटेशन एंड कंट्रोल और इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक्स, कंप्यूटर साइंस इन इंजीनियरिंग शाखाओं में हासिल की हो। साथ ही स्टूडेंट्स को रोबोटिक्स में ग्रेजुएशन/ पोस्ट ग्रेजुएशन लेवल के अलग अलग कोर्सेस करने के लिए GATE/ BITSAT, JEE (Main), JEE (Advanced) और SRMHEEE(PG) जैसे एंट्रेंस एग्जाम पास करने की जरूरत होती हैं।

रोबोटिक्स इंजीनियरिंग के बाद जॉब के अवसर 

रोबोटिक्स इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल करनेवाले स्टूडेंट्स भारत में रोबोटिक्स की फील्ड में अपना करियर शुरू कर सकते हैं।  ऐसे स्टूडेंट देश की बड़ी कंपनियों में रोबोट डिजाइनिंग और मेंटेनेंस से जुड़े विभिन्न काम कर सकते हैं। हमारे देश में रोबोटिक्स की फील्ड से जुड़े विभिन्न करियर ऑप्शन निचे दिए गये हैं।

  • रोबोटिक्स प्रोग्रामर
  • रोबोटिक्स टेक्नीशियन
  • रोबोटिक टेस्टर
  • रोबोटिक स्पेशलिस्ट
  • रोबोट डिज़ाइन इंजीनियर
  • रोबोटिक्स सिस्टम इंजीनियर
  • रोबोट टेस्ट इंजीनियर
  • मेंटेनेंस इंजीनियर
  • कंसलटेंट एआई इंजीनियर
  • ड्रोन पायलट

रोबोटिक्स इंजीनियरिंग के बाद सैलरी कितनी होगी 

एक सवाल हर उस स्टूडेंट्स के लिए महत्व रखता है जो रोबोटिक्स इंजीनियरिंग में इंटरेस्ट रखता है। शायद आप को पता है या नही  लेकिन यह सही है की, हमारे देश में रोबोटिक्स इंजीनियरिंग से सम्बन्धित जो अलग अलग फ़ील्ड्स है, उस में औसतन 4 – 5 लाख रुपये सालाना का सैलरी पैकेज मिलता है। कुछ वर्षों के अनुभव के बाद ये प्रोफेशनल को औसतन1 -2 लाख रुपये मासिक या इससे अधिक कमाते हैं।

 इन प्रोफेशनल की एजुकेशनल क्वालिफिकेशन, टैलेंट और वर्क एक्सपीरियंस का सीधा असर इनके सैलरी पैकेज पर पड़ता है। हांलाकि यह भी निर्भर करता है कि कंपनिया के हिसाब से सैलरी में कम या ज्यादा हो सकती है।

यहाँ है जॉब के अवसर

  • इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गनाइजेशन (Isro)
  • टेक महिंद्रा लिमिटेड (Mahindra)
  • भारत हेवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड (Bhel)
  • डिफेन्स रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन (Drdo )
  • टाटा(Tata)
  • भाभा एटॉमिक रिसर्च सेंटर (Baarc)
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी (iit)
  • विदेशों में भी है जॉब के कई अवसर

सम्बन्धित सवाल – FAQ 

रोबोटिक्स इंजीनियरिंग क्या है?

रोबोटिक्स इंजीनियरिंग इंजीनियरिंग की एक ऐसी शाखा है, जिसमें रोबोट को डिजाइन करना और उनके लिए कंप्यूटरीकृत एप्लीकेशन विकसित करना, सेंसर, प्रोसेसर, कलपुर्जों के पदार्थ और आकार का निर्धारण करना, इसके अलावा रोबोट में लगे इलेक्ट्रॉनिक पुर्जों का निरीक्षण, रोबोट का परीक्षण और उसकी तकनीक संबंधी खामियों का पता लगाना, रोबोट को डिस्असेंबल/ रिअसेंबल करने के साथ रोबोट की सर्विसिंग का अध्ययन और प्रशिक्षण रोबोटिक्स इंजीनियरिंग में होता है।


रोबोटिक्स इंजीनियरिंग करने के बाद किन कंपनियों में जॉब कर सकते है ?

रोबोटिक्स इंजीनियरिंग के बाद TATA, BHEL, BARC, DiFACTO Robotics and Automation, NASA, Tech Mahindra Ltd, Kuka Robotics, ISRO, etc में जॉब के बेहतर अवसर है। 


रोबोटिक्स इंजीनियरिंग करने के लिए IIT का या अन्य कोई एंट्रेंस एग्जाम देना जरुरी है क्या ?

जी हाँ, रोबोटिक्स इंजीनियरिंग करने के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम देना जरुरी है। 


क्या रोबोटिक्स इंजीनियरिंग एक अच्छा करियर है?

हां, रोबोटिक्स इंजीनियरिंग में करियर बेहद आकर्षक है, रोबोटिक्स इंजीनियर मैन्युफैक्चरिंग, इंजीनियरिंग, गेमिंग, लॉजिस्टिक्स और AI इंडस्ट्री जैसे कई क्षेत्रों में काम कर सकते हैं। 


मैं 12वीं के बाद रोबोटिक्स इंजीनियर कैसे बन सकता हूं?

12वीं के बाद रोबोटिक्स इंजीनियर बनने के लिए छात्र 12वीं साइंस की परीक्षा पास करने के बाद रोबोटिक्स इंजीनियरिंग में बैचलर डिग्री (BTech) के लिए अप्लाई कर सकते हैं।


सम्बोधन

दोस्तों रोबोटिक्स ( robotics in hindi) के इस आर्टिकल में हमने रोबोटिक्स इंजीनियरिंग की सभी बेसिक जानकारी को शामिल किया है, हमें आशा है की उपरोक्त जानकारी आप के लिए उपयोगी सिद्ध होगी। अगर रोबोटिक्स इंजीनियरिंग से जुदा आप का कोई प्रश्न है तो हमें कमेंट बॉक्स में जरुर लिखे।

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!