ssc kya hai – स्टाफ सिलेक्शन कमीशन की full detail जानकारी

ssc kya hai puri jankari hindi me – SSC याने Staff Selection Commission (स्टाफ सिलेक्शन कमीशन). यह केंद्र सरकार की ऐसी संस्था है जिस के माध्यम से सभी केन्द्रीय सरकार के अधीन संस्थानों के लिए कर्मचारी गठन के लिए परीक्षाएं ली जाती है, और कर्मचारी चयन किये जाते है।

हेल्लों दोस्तों, मेरा नाम है संदीप और sandipdhore.com के माध्यम से मैं आप को एजुकेशनल जानकारी देता हूँ। जिस स्टूडेंट्स को सरकारी नोकरी की अभिलाषा है, तो उन्हें SSC की परीक्षाएं देनी चाहिए। इस के लिए आप के पास एसएससी क्या है कैसे करे ? इस की जानकारी होना आवश्यक है। हम इस आर्टिकल में SSC Kya Hai (एसएससी क्या है), SSC का फुलफॉर्म क्या है?, SSC कौन-कौन से एग्जाम लेती है? इस तरह की एसएससी के बारे में पूरी जानकारी आप के लिए लाए है। 

ssc kya hai
ssc kya hai

केंद्र सरकार के अधीन अलग-अलग डिपार्टमेंट में कर्मचारियों की चयन के लिए केंद्र सरकार हर साल SSC याने स्टाफ सिलेक्शन कमीशन के द्वारा चयन प्रक्रिया के तहत अलग-अलग पोस्ट के लिए एग्जाम करवाती है। इस एग्जाम में पास होनेवाला स्टूडेंट को सम्बन्धित पोस्ट के लिए चुना जाता है। सामान्य तौर पर इसी उद्देश्य के लिए SSC याने स्टाफ सिलेक्शन कमीशन का गठन केंद्र सरकार द्वारा किया गया है। अब आप को SSC kya hai यह तो समझ में आ ही गया होगा। अब इसे विस्तार से जानते है ताकि इस के आवेदन के वक्त आप के मन में कोई Doubt ना रहे।

एसएससी क्या है? (ssc kya hai hindi)

दोस्तों आप को पता है, केंद्र सरकार के अधीन कई संस्थाएं और उप-संस्थाएं होती है, जहाँ चपरासी से लेकर अधिकारीयों तक कर्मचारी काम करते है। पुरे देश में इन अलग-अलग संस्थानों में हर साल लाखों की तादात में कर्मचारी रिटायर्ड होते है, जिस में सभी प्रकार के कर्मचारी शामिल है। ऐसे में सभी के लिए अलग-अलग चयन प्रक्रिया को करना सरकार के लिए काफी महंगा और क्लिष्ट हो जाता है।

ऐसे में केंद्र सरकार द्वारा गठित SSC याने स्टाफ सिलेक्शन कमीशन (कर्मचारी चयन आयोग) इस चयन प्रक्रिया को एकत्रित पद्धती से करता है और अलग-अलग संस्थानों में खाली हुए पदों के लिए कर्मचारी चुनता है। कर्मचारी के एग्जाम से लेकर नियुक्ति तक सभी जरुरी बाते इस के अंतर्गत आती है, इसलिए स्टाफ सिलेक्शन कमीशन की एग्जाम का स्वरुप बडा होता है।

इस स्टाफ सिलेक्शन कमीशन के एग्जाम में चपरासी से लेकर बड़े अधिकारीयों के चयन के लिए एग्जाम लिया जाता है, इस लिए स्टूडेंट्स को एग्जाम देने के लिए पर्टिकुलर क्वालिफिकेशन की आवश्यकता नही होती, आप के क्वालिफिकेशन के हिसाब से सम्बन्धित पोस्ट के लिए एग्जाम दे सकते है।

SSC का गठन कब और कैसे हुआ?

एसएससी का फुल फॉर्म है स्टाफ सिलेक्शन कमीशन  (SSC – Staff Selection Commission ) जिस गठन केंद्र सरकार द्वारा 4 नवंबर 1975 को किया गया था। जिस का उद्देश्य केंद्र सरकार के अधीन विभागों में कर्मचारियों का चुनाव करना था।  हालाँकि, जब इस की स्थापना हुई तब इसे अधीनस्थ सेवा आयोग (subordinate service commission) कहाँ जाता था, जिसे 26 सितंबर 1977 को बदलकर स्टाफ सिलेक्शन कमीशन (Staff Selection Commission) कर दिया गया।

SSC का मुख्यालय – SSC का मुख्यालय देश की राजधानी नई दिल्ली में स्थित है, जहाँ से देशभर में केन्द्रीय विभागों के लिए अलग अलग भर्ती परीक्षाएं एवं चयन प्रक्रिया ली जाती है। 

SSC कौन-कौन सी परीक्षाएं लेता है?

SSC Kya Hai (एसएससी क्या है) यह तो आप पूरी तरह से जान गये हो, अब हम जानते है की SSC के अंतर्गत कौन-कौन  सी एग्जाम होती है? आप सभी को पता है की केंद्र सरकार द्वारा A क्लास और B क्लास जैसे 24 प्रशासकीय सेवाओं के अधिकारी चुनाव के लिए संघ लोक सेवा आयोग (Union Public Service Commission) परीक्षाएं लेता है, जिसे स्टूडेंट्स Competitive Exam के तौर पर जानते है। 

उसी समकक्ष या उस के बाद आनेवाले अधिकारीयों, कर्मचारियों के चुनाव के लिए स्टाफ सिलेक्शन कमीशन (SSC) देश भर में हर साल परीक्षाएं आयोजित करता है। जिसमें निम्न परीक्षाएं होती है,

  • SSC CGL Exam – एसएससी सिजीएल एग्जाम 
  • SSC CHSL Exam – एसएससी सीएचएसएल एग्जाम
  • SSC STENO Exam  – एसएससी स्टेनो एग्जाम
  • SSC GD Exam – एसएससी जीडी एग्जाम 
  • SSC MTS Exam – एसएससी एमटीएस एग्जाम 
  • SSC CPO Exam – एसएससी सीपीओ एग्जाम
  • SSC JE Exam – एसएससी जेई एग्जाम 
  • SSC JHT Exam – एसएससी जेएचटी एग्जाम 

SSC CGL Exam – एसएससी सिजीएल एग्जाम 

यह स्टाफ सिलेक्शन कमीशन की ग्रेजुएशन लेवल की एक एग्जाम है, जिसे Combined Graduate Level Exam (CGL Exam) कहाँ जाता है। यह परीक्षा उन स्टूडेंट्स के लिए है जिन्होंने अपना ग्रेजुएशन कम्पलीट किया है। अगर आप ग्रेजुएट कम्पलीट नही किये है, आप के पास डिग्री नही है तो आप इस एग्जाम को नही दे सकते। इस एग्जाम के माध्यम से निम्न स्तर के अधिकारीयों का चुनाव होता है,

  • आयकर इन्स्पेक्टर (Inspector Income Tax)
  • परीक्षक इन्स्पेक्टर (Inspector Examiner)
  • सहायक लेखा परीक्षा अधिकारी (Assistant Audit Officer)
  • सहायक – विदेश मंत्रालय (Assistant in Ministry of External Affairs)
  • सहायक – केंद्रीय सतर्कता आयोग (Assistant in Central Vigilance Commission)
  • सहायक प्रवर्तन अधिकारी (Assistant Enforcement Officer)
  • केंद्रीय उत्पाद शुल्क इंस्पेक्टर (Inspector Central Excises)
  • सहायक – रेल मंत्रालय (Assistant Ministry of Railway)

SSC CHSL Exam – एसएससी सीएचएसएल एग्जाम

यह स्टाफ सिलेक्शन कमीशन की उच्च माध्यमिक लेवल की एक एग्जाम है, जिसे Combined Higher Secondary Level Exam (CHSL Exam) कहाँ जाता है। जो स्टूडेंट्स 12 th क्लास (केन्द्रीय या राज्यस्तरीय हायर सेकेंडरी बोर्ड एग्जाम) पास है, वे स्टूडेंट्स इस एग्जाम को दे सकते है। SSC निम्न स्तर की पोस्ट के लिए यह एग्जाम लेता है।

  • सभी मंत्रालयों में डाटा एंट्री ओपरेटर (Data Entry Operator)
  •  लोअर डिवीजन क्लर्क (Lower Division Clerk)
  • डाक विभाग सहायक (Postal Assistant)
  • न्यायपालिका लिपिक ( Clerk In Court)
  • सचिवालय जूनियर सहायक 

SSC STENO Exam  – एसएससी स्टेनो एग्जाम

यह भी स्टाफ सिलेक्शन कमीशन की उच्च माध्यमिक स्तर की एक एग्जाम है जिस से सभी केन्द्रीय सरकारी विभागों में स्टेनोग्राफर पद के लिए लिया जाता है। इस परीक्षा के लिए आप का 12 वी पास होना अनिवार्य है। इस परीक्षा को पास कर के आप सरकार के विभिन्न विभागों में स्टेनोग्राफर के रूप में कार्य कर सकते है।

 SSC GD Exam – एसएससी जीडी एग्जाम 

यह स्टाफ सिलेक्शन कमीशन की माध्यमिक स्तर की एक एग्जाम है, जिसे General Duty Exam (GD Exam) कहाँ जाता है।  यह परीक्षा केन्द्रीय विभागों के अंतर्गत विभिन्न सिपाही (कांस्टेबल) पदों को भरने के लिए ली जाती है। भारत सरकार के विभिन्न विभागों में जैसे, Central Armed Police Forces (CAPFs), National Investigation Agency (NIA), Special Security Force (SSF) and Rifleman (GD) in Assam Rifles में खाली हुए पदों को भरने के लिए SSC माध्यमिक शालांत परीक्षा में पास (10 वी पास) स्टूडेंट्स के लिए यह SSC GD Exam आयोजित करती है।

SSC MTS Exam – एसएससी एमटीएस एग्जाम 

यह स्टाफ सिलेक्शन कमीशन की माध्यमिक स्तर की एक एग्जाम है, जिसे Multi Tasking Staff Exam (MTS Exam) कहाँ जाता है। यह केंद्र सरकार के विभिन्न विभागों में चपरासी जैसे पदों के लिए भर्ती प्रक्रिया परीक्षा है जिसे स्टाफ सिलेक्शन कमीशन द्वारा हर साल आयोजित किया जाता है। इस के लिए न्यूनतम शैक्षणिक मर्यादा 10 वी पास है। जो स्टूडेंट्स 10 पास है और जॉब करना चाहते है वे इस में आवेदन कर सकते है। 

विभिन्न विभागों में निम्न जगहों के लिए यह परीक्षा आयोजित होती है।

  • सरकार के विभिन्न विभागों में चपरासी ( Peon )
  • दफ्तरी (Daftary)
  • जूनियर गेस्टेटनर ऑपरेटर
  • जमादार
  • चौकीदार
  • माली (Gardener)
  • सफाईवाला

SSC CPO Exam – एसएससी सीपीओ एग्जाम

CPO याने सेंट्रल पुलिस आर्गेनाइजेशन (Central Police Organisation) यह पुलिस बल केंद्र सरकार के अधीन आता है, जो केन्द्रशासित प्रदेशों में पुलिस बल के रूप में कार्यरत है। इस में खाली पदों को भरने के लिए स्टाफ सिलेक्शन कमीशन द्वारा हर साल एग्जाम ली जाती है। जिसे SSC CPO Exam कहाँ जाता है। इस पद के लिए स्टूडेंट्स का ग्रेजुएशन कम्पलीट करना अनिवार्य है, तथा ड्राईवर के पदों के लिए ड्राइविंग लाइसेंस होना भी अनिवार्य होता है। CPO Exam में निम्न पदों के लिए भरती प्रक्रिया होती है। 

  • दिल्ली पुलिस (Delhi Police)
  • सीएपीएफ (CAPF) में उप-निरीक्षक (Sub Inspector) ,सहायक उप-निरीक्षक (Assistant Sub Inspector)
  • केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ)

SSC JE Exam – एसएससी जेई एग्जाम

यह भी स्टाफ सिलेक्शन कमीशन की इंजीनियरिंग स्तर की एक एग्जाम है जिस से सभी आवश्यक केन्द्रीय सरकारी विभागों में मौजूद तकनिकी विभाग में जूनियर इंजिनियर पद के लिए लिया जाता है। JE Exam का मतलब Junior Engineer Exam होता है। जिस के लिए स्टूडेंट्स किसी भी इंजीनियरिंग फैकल्टी में डिप्लोमा या डिग्री पास होना अनिवार्य है।

JE Exam से स्टाफ सिलेक्शन कमीशन निम्न पदों की भर्ती करता है।

  • सेंट्रल वाटर कमीशन  (CWC)
  • सेंट्रल वाटर पॉवर रिसर्च स्टेशन  (CWPRS)
  • डायरेक्टरेट जनरल बॉर्डर रोड आर्गेनाइजेशन  (BRO)
  • मिल्ट्री इंजीनियरिंग सर्विस (MES)
  • सेंट्रल पब्लिक वर्क्स डिपार्टमेंट (CPWD)
  • डायरेक्टरेट जनरल क्वालिटी अशुरंस (DGQA),
  • डायरेक्टरेट ऑफ़ क्वालिटी अशुरंस (NQA),
  • नेशनल टेक्निकल रिसर्च आर्गेनाईजेशन  (NTRO) 

SSC JHT Exam – एसएससी जेएचटी एग्जाम

यह स्टाफ सिलेक्शन कमीशन की पोस्ट ग्रेजुएशन लेवल की एक एग्जाम है, जिसे Junior Hindi Translator Exam (JHT Exam) कहाँ जाता है। यह परीक्षा उन स्टूडेंट्स के लिए है जिन्होंने अपना पोस्ट ग्रेजुएशन हिंदी विषय में कम्पलीट किया है। इस के लिए हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओँ का सम्पूर्ण ज्ञान आवश्यक है। इस एग्जाम के जरिये देश के विभिन्न मंत्रालयों, अन्य सरकारी विभागों में जूनियर हिंदी ट्रांसलेटर के पदों के लिए चुनाव होता है।

JHT Exam से स्टाफ सिलेक्शन कमीशन निम्न पदों की भर्ती करता है।

  • जूनियर हिंदी ट्रांसलेटर
  • जूनियर ट्रांसलेटर
  • सीनियर हिंदी ट्रांसलेटर
  • हिंदी प्राध्यापक

स्टाफ सिलेक्शन कमीशन की एग्जाम कौन-कौन दे सकता है?

उपरोक्त जानकारी में आप ने पढ़ा है की स्टाफ सिलेक्शन कमीशन देश भर में कई सरकारी विभागों में कर्मचारी चयन प्रक्रिया को लागु करता है, जिस में अलग-अलग पदों के लिए भरती प्रक्रिया होती है। इसलिए इस में सम्बन्धित केटेगरी के पोस्ट के लिए  १०वी पास से लेकर पोस्ट ग्रेजुएशन की पढाई किये हुए स्टूडेंट्स आवेदन कर सकते है।

उपरोक्त जानकारी में आप को बताया गया है की किस पोस्ट के लिए  कितनी शैक्षणिक अहर्ता की आवश्यकता है।

एसएससी एग्जाम के लिए आवश्यक वयोमर्यादा 

स्टाफ सिलेक्शन कमीशन देश भर में भरती प्रक्रिया का आयोजन विभिन्न पदों के लिए करती है, इसलिए वयोमर्यादा की आवश्यकता भी अलग-अलग होती है। साधारणतः एसएससी एग्जाम की वयोमर्यादा न्यूनतम 16 वर्ष से अधिकतम 35 वर्ष होती है, जिस में आरक्षित जगहों के लिए वयोमर्यादा में शिथिलता प्रदान की जाती है। किस पोस्ट के लिए आप आवेदन कर रहे है, उस के लिए सम्बन्धित वयोमर्यादा क्या है? इस की जानकरी आप को स्टाफ सिलेक्शन कमीशन के ऑफिसियल वेबसाइट पर और साथ ही स्टाफ सिलेक्शन कमीशन के द्वारा जारी नोटीफीकेशन में मिल सकती है। 

यहाँ से आप स्टाफ सिलेक्शन कमीशन के नोटिफिकेशन पढने के लिए ऑफिसियल वेबसाइट के नोटिफिकेशन पोर्टल को भेंट दे सकते है –  

STAFF SELECTION COMMISSION/NOTICES – SSC.NIC.IN

SSC Exam Syllabus की जानकारी 

मुझे लगता है की हर साल कई विद्यार्थी स्टाफ सिलेक्शन कमीशन की एग्जाम देते है, लेकिन शायद ही कुछ स्टूडेंट्स होते है जो एसएससी के एग्जाम के सिलेबस को अच्छेसे समझते है। किसी एग्जाम के लिए परीक्षा पैटर्न और सिलेबस को जानना हर स्टूडेंट्स के लिए महत्वपूर्ण है, जिस से एक स्टूडेंट यह जान सकता है की उसे उस एग्जाम की तैयारी कैसे करनी है।

स्टाफ सिलेक्शन कमीशन के द्वारा विभिन्न तरह की एग्जाम आयोजित की जाती है, इसलिए हर पोस्ट के एग्जाम के लिए थोडा अलग-अलग सिलेबस होता है। फिर भी अमूमन competitive exam के जैसे, सामान्य ज्ञान, रेसोनिंग, भाषा  और गणित के बेस पर ही सिलेबस डिपेंड होता है।

एसएससी के सम्बन्धित पोस्ट के एग्जाम सिलेबस को जानने के लिए आप ऑफिसियल वेबसाइट के सिलेबस पोर्टल पर भेंट दें 

STAFF SELECTION COMMISSION/SYLLABUS – SSC.NIC.IN

(अगर आप चाहते है की SSC Exam Syllabus पर आप को आसान शब्दों में जानने की जरूरत है तो कमेंट बॉक्स में लिखें। अगर स्टूडेंट्स चाहते है तो इस पर विस्तृत जानकारी एक दुसरे आर्टिकल में जरुर देने की कोशिश करेंगे)

SSC Exam की तैयारी कैसे करें 

कई स्टूडेंट्स मानते है की एसएससी एग्जाम काफी हार्ड होती है, लेकिन यह काफी गलत सोच है, एक स्टूडेंट के लिए कोई भी एग्जाम हार्ड नही हो सकती। जरूरत होती है सही प्लानिंग और स्ट्रेटेजी की। अगर आप खुद ही इसे हार्ड मान लो गे तो आप को यह एग्जाम जरुर हार्ड लगेगी। 

आप हमारा कॉम्पीटिशन एग्जाम की तैयारी कैसे करें इस आर्टिकल को जरुर पढ़ें। 

एसएससी एग्जाम की  प्लानिंग और स्ट्रेटेजी के साथ कैसे तैयारी करनी है इस विषय के साथ हम आनेवाले दिनों में आप से जरुर मिलेंगे।

सम्बन्धित सवाल – FAQ

SSC क्या है?

स्टाफ सिलेक्शन कमीशन (Staff Selection Commission) का शोर्ट फॉर्म है SSC. जिसे हिंदी में कर्मचारी चयन आयोग कहाँ जाता है।


SSC का फुल फॉर्म क्या है?

SSC – Staff Selection Commission – स्टाफ सिलेक्शन कमीशन – कर्मचारी चुनाव आयोग 


SSC का उद्देश्य क्या है ?

केंद्र सरकार के अधीन देशभे में विभिन्न सरकारी विभागों में कर्मचारी के चयन के लिए भरती प्रक्रिया की पूर्ण जिम्मेदारी को उठाना स्टाफ सिलेक्शन कमीशन (SSC) का मूल उद्देश्य है।


SSC की स्थापना कब हुई?

SSC की स्थापना केंद्र सरकार द्वारा 4 नवंबर 1975 को की गयी थी। जिस का उद्देश्य केंद्र सरकार के अधीन विभागों में कर्मचारियों का चुनाव करना था। 


SSC Exam कौन दे सकता है?

कोई भी भारतीय नागरिक जिस की उम्र 16 वर्ष से अधिक और 35 वर्ष से कम है और जिसकी शैक्षणिक अहर्ता १० पास और उस से अधिक है, वन एसएससी के विभिन्न पदों के लिए यह परीक्षा दे सकता है।


क्या भारतीय विकलांग नागरिक एसएससी एग्जाम दे सकता है?

जी हाँ, बिलकुल, कोई भी भारतीय विकलांग नागरिक जो शैक्षणिक अहर्ता और वयोमर्यादा नियमों में बैठता हो, बशर्ते उस व्यक्ति की विकलांगता 70% से अधिक नही होनी चाहिए।


एसएससी-सिजीएल (SSC-CGL) क्या है?

यह स्टाफ सिलेक्शन कमीशन की ग्रेजुएशन लेवल की एक एग्जाम है, जिसे Combined Graduate Level Exam (CGL Exam) कहाँ जाता है। यह परीक्षा उन स्टूडेंट्स के लिए है जिन्होंने अपना ग्रेजुएशन कम्पलीट किया है। अगर आप ग्रेजुएट कम्पलीट नही किये है, आप के पास डिग्री नही है तो आप इस एग्जाम को नही दे सकते। इस एग्जाम के माध्यम से निम्न स्तर के अधिकारीयों का चुनाव होता है,

आयकर इन्स्पेक्टर,परीक्षक इन्स्पेक्टर, सहायक लेखा परीक्षा अधिकारी, सहायक – विदेश मंत्रालय, सहायक – केंद्रीय सतर्कता आयोग, सहायक प्रवर्तन अधिकारी, केंद्रीय उत्पाद शुल्क इंस्पेक्टर, सहायक – रेल मंत्रालय

संबोधन 

दोस्तों, SSC kya Hai पूरी जानकारी हिंदी में (ssc kya hai puri jankari hindi me) इस आर्टिकल में आप को स्टाफ सिलेक्शन कमीशन के बारे में पूरी जानकारी दी गयी है। अगर आप SSC Exam की स्ट्रेटेजी और प्लानिंग के साथ तैयारी कैसे करें यह जानना चाहते है तो कमेंट बॉक्स में मॅसेज करें। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!